SEO

SEO News सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन: 2017  के ट्रेंड्स 

SEO News सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन: 2017 के ट्रेंड्स –

हेल्लो फ्रेंड्स ये गेस्ट पोस्ट है , SEO News सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की द्वारा किसी भी वेबसाइट को  विभिन्न सर्च इंजन पर आसानी से खोजा जा सकता है| सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की में कीवर्ड की बहुत बड़ा योगदान रहता है| कीवर्ड के अच्छा उपयोग आपकी वेबसाइट को आर्गेनिक (जैविक) ट्रैफिक देता है| जिसकी वजह से आपकी फर्म की  मार्केटिंग (विपणन) पर अच्छा असर होता है| 2016 में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की बहुत से नए ट्रेंड आये, 2017 में उन् ट्रेंड्स में कुछ नए ट्रेंड्स भी शामिल हो गए है| सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के नए ट्रेंड्स को अपने व्यापार और मार्केटिंग से जोड़ने पर आपके फर्म या बिज़नेस को सफलता मिलती है| SEO के ट्रेंड की अनुसार ही बिज़नेस स्ट्रेटेजी और बजट की तयारी करना जरुरी होता है| कुछ ट्रेंड जिन की अनुसार आप  2017 में  वेबसाइट की लिए SEO  की तयारी कर सकते है|

seo news

2017 के नए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ट्रेंड: – 2017 के नए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन ट्रेंड जो तेज़ी से बदल रहे यही और आपकी वेबसाइट, मार्केटिंग को भारी मुनाफा दे सकते है| सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन पर अगर ध्यान ना दिया जाये तो इंटरनेट के इस युग में आपका व्यापार पीछे रह जायेगा| जिन ट्रेंड्स पर 2017  में अधिक ध्यान देना होगा वे नीचे वर्णित किये गए है|

1 -उपयोगकर्ता की अनुसार ऑप्टिमाइजेशन:- (User-friendly optimization)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए कीवर्ड बहुत महत्वपूर्ण है, लेकिन आज की समय में उपयोग करता को पता होता है की उससे क्या चाहिए और क्या नहीं| ऐसे परिस्तिथि में सर्च इंजन उपयोग करता की लक्ष्य या उद्देशय पहचान लेता है| उपयोगकर्ता अब सर्च  इंजन में पूरी क्वेरी करने लगे है, जो परिणाम को और अधिक प्रभावी बना देते है| कम्पनियो को अपने कंटेंट को कस्टमर की अनुसार ऑप्टिमाइज़ करना होगा ना की कुछ कीवर्ड की अनुसार| इस प्रकार की SEO स्ट्रैटर्जी की लिए कुछ बातें धयान में रखनी चाहिए

Read Now  Feedburner kya hai aur feedburner account kaise banaye

2 – विवेचन कर के सुधारना :(Review and improve)

अच्छी तरह विवेचन (खोज-बीन) करे की आपके वेबसाइट तक कस्टमर की खोजते हुए आते है? आपके वेबसाइट से कस्टमर की चाहते है? इस प्रकार विवेचन कर की अपनी वेबसाइट को उन जानकारियो को डाले| इन जानकारियो की अनुसार अपनी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करने की बाद, अपनी वेबसाइट को उस जानकरी की अनुसार सामयिक बनाते रहना चाहिए| इस प्रकार से आपके विएवेर्स / कस्टमर्स आपके वेबसाइट पर लम्बे समय तक बने रहेंगे|

3 – समृद्ध उत्तर को टुकड़ो में बाटना:- (Divide the rich answer into pieces: -)

अक्सर किसी मुश्किल सवाल या क्वेरी की लिए हम सर्च इंजन जैसे गूगल की मदद लेते है| गूगल प्रत्यक्षता की साथ जानकारी को सर्च रिजल्ट की साथ साथ उससे जुडी तस्वीरें, वीडियो, उपयोगी वेबसाइट की साथ दिखता है| इस स्तिथि में वेबसाइट डाटा को स्ट्रक्चर्ड डाटा मार्कअप की मदद से उपयोगी बनाया जाता है| इस मार्कअप की द्वारा सर्च इंजननो को वेबसाइट का कंटेंट समझने में आसानी होती है| इस प्रकार से छाटे हुए कंटेंट से कस्टमर को आसानी होती है| इस ट्रेंड के साथ अपनी वेबसाइट को जोड़ कर अपने वेबसाइट का डाटा सर्च इंजननो पर दिखया जा सकता है|

Read Now  Bitcoin Kya Hai ? Bitcoin Kaise Kaam Karta Hai

 3 – अपनी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाना:- (Making your website mobile friendly: )

कई वेबसाइट केवल कंप्यूटर द्वारा ही चलती है, मोबाइल फ्रेंडली वेबसाइट बनाने से ट्रैफिक ज्यादा आता है| कई लोग किसी प्रश्न के सवाल पूछने की लिए मोबाइल के उपयोग ज्यादा करते है, 2015 की रिपोर्ट अनुसार वेबसाइटस को 70% ट्रैफिक मोबाइल से मिलने लगा है,  वेबसाइटस का सो मोबाइल फ्रेंडली बनाना  2017  से अनिवार्य हो गया|   

4 – वायस से क्वेरी सर्च, एक बड़ा बदलाव: – (Search by Voice)

नयी टेक्नॉलजी के साथ साथ बहुत बहुत से वौइस् सर्च का एक बहुत उपयोगी मना जा रहा है| २०१७ में वौइस् सर्च को बड़ा महत्व दिया जा रहा है, मन जाता है की वौइस् सर्च से वौइस् अंडरस्टैंडिंग में बदल जायेगा, इसके द्वारा पहले की गयी सर्च और ज्यादातर उपयोग किये जाने वाले ऍप्लिकेशन्स और जगह के अनुसार किया जायेगा|

5 – क्रॉस चैनल मार्केटिंग: – (Cross Channel Marketing)

क्रॉस चैनल मार्केटिंग की द्वारा आप कंस्यूमर को टार्गेटेड (लक्षित) विज्ञापनों की द्वारा कंस्यूमर को सोशल मीडिया और ईमेल की द्वारा आपके प्रोडक्ट के बारे में बता सकते है| क्रॉस चैनल मार्केटिग से विपणन(मार्केटिंग) को एक नए सतर पर पहुंचाया जा सकता है|  क्रॉस मार्केटिंग में एक समस्या आती है, कंपनी को कंस्यूमर तक ऐसा मैसेज देना होता है की वो कंस्यूमर को स्पैम मैसेज नहीं लगे और कमपनी का मार्केटिंग कार्य भी हो जाये|

Read Now  Kisi Bhi Blog Pe Comment Karne Ke Tarike

6 – मोबाइल साइट की लिए लिंक के पुनिर्माण करना Accelerated AMP (Rebuilding Link for Mobile Site):

अगर आपकी वेबसाइट केवल डेस्कटॉप वर्शन है , तो मोबाइल फ्रेंडली बनाने का प्रयास करना चाहिए| SEO  रेटिंग और वेबसाइट रैंकिंग पर इसका सीधा असर होता है| मोबाइल वेबसाइट ज्यादा क्रियाशील होता है, गूगल की अनुसार सबसे ज्यादा क्रियाशील वेबसाइट ही सर्च करने पर दिखाई जाती है|

7 -सोशल मीडिया: – (Social Media)

अपनी वेबसाइट की ब्रांडिंग आप सोशल मीडिया की थ्रू भी कर सकते है, इस तरीके से आपको कंस्यूमर की पसंद नापसंद जानने में आसानी होती है| टार्गेटेड विज्ञापन की मदद से आप अपनी वेबसाइट की मार्केटिंग कर सकते है|

नवीन SEO ट्रेंड्स और Contentmart

SEO  ट्रेंड के अनुसार चलने से आपकी वेबसाइट की अच्छी मार्केटिंग और ऑप्टिमाइजेशन होता है| लेकिन अगर आपको SEO के ट्रेंड के बारे में नहीं पता तो परेशान होने की जरुरत नहीं है| Contentmart.com पर आपको SEO के विशेषज्ञय मिलते है जो आपको अपने ब्लॉग को ऑप्टीमाइज़्ड कर सकते है| इन विशेषज्ञयों का काम आपके कंटेंट को सर्च इंजन के लिए ऑप्टिमाइज़ करना होता है| ये कंटेंट आसानी से गूगल के सभी मायनो पर खरा उतारते है| कंटेंटमार्ट पर भी परीक्षण होते है जिस पर लेखक भी आपके कंटेंट को SEO फ्रेंडली बना कर देते है|

यदि आप Report Writing के बारे में अधिक जानना चाहते हैं, तो यहां पर क्लिक करे I

 

About the author

Amit kumar

Hello, I am Amit .i am hindi blogger.Myhelpblog.com website pe aap wordpress blog ,computer,online business,internet,inspirational story ki knowledge apko milegi.

Add Comment

Click here to post a comment

adsense increase cpc

Free News Letter

Enter your email address