Top Menu

E commerce के कितने प्रकार होते हैं  :-

Dosto आज मै आपको बताऊंगा की e commerce कितने प्रकार के होते हैं , e commerce में भी business के कई प्रकार होते है । जैसे हर business के कई प्रकार होते हैं e commerce में हर तरह का business हो सकता है , इस business को  कम खर्च में पुरे देश या world में किया जा सकता , तो आइये जानते है की कौन कौन से प्रकार हैं –

e commerce के प्रकार (type of e commerce) :-
  1. business to business
  2. business to consumer
  3. consumer to consumer
Business to Business :- 

इस तरह के business में दो कंपनी एक दुसरे से business(व्यापार) करती हैं जैसे की एक कंपनी  दुसरे कंपनी से product को खरीदती है । जैसे मान  लीजिये कोई e commerce कंपनी product को खुद तो बनती नहीं वो भी किसी और कंपनी से ही उसे खरीदकर आपको बेचती है तो ये business to business में आयेगा ।

business to consumer :-

इस तरह का business तो आप जानते ही होंगे , इस में  कंपनी और customer के बीच व्यापार होता है ।जैसे आप जब किसी e commerce कंपनी से सामान को खरीदते है तो ,, आप कस्टमर हुए ,इसमें हम लोग आते हैं ।

consumer to consumer :-

इस तरह का business थोडा अलग टाइप का होता है , क्यों की इसमें एक उपभोक्ता दुसरे उपभोक्ता से product को खरीदता है ।जैसे आज कल बहुत सी कंपनी है जैसे मन लीजिये olx.com या quickr.com के website पे जाकर हम कोई सामान देखते है और उसे खरीदने के लिए हम दुसरे उपभोक्ता से contact कर के डायरेक्ट product खरीदते हैं या बेचते हैं  । इसमें दो लोग आपस में business करते हैं ।

e commerce में हम हर एक तरह का business कर सकते हैं , और वो भी अपने घर बैठे पुरे world  या देश में जैसे tour & travel ticket booking , books को बेचना  जैसे yatra.com  या फिर flipkart.com ,amazon.com हैं । बहुत सी कंपनीज फ्री में web page देती है बस आपको वह जाके आप अपना e commerce website फ्री में बनाये वो भी बहुत ही आसानी से और अपने domain से कनेक्ट कर के अपना product डाले और आप business start कर सकते है । सबसे main काम ये है की आपके website को लोग कैसे जाने . इसके लिए pramotion बहुत जरुरी है और साथ साथ seo की भी जानकारी होनी चाहिए वैसे ।और दूसरी बड़ी बात आपको लोगो को आफ्टर सेल्स सर्विस भी देनी होगी ।

कुछ ही समय में में e commerce बहुत ही popular हो गया है . IBM जैसी  कंपनी   तो अपना 70 से 80% selling e commerce से करती है । e commerce ने अमीर गरीब के बीच की दीवारे मिटा दी है क्यों के net पे बहुत बड़े showroom की जगह website होती है जिसपे कोई भी सामान जितनी देर तक चाहे देख सकता है , जब की बड़े showroom में सभी लोग जाना नहीं चाहते ।

india में e-commerce बहुत ही पुराना नहीं हुआ है जिससे सभी business (उधमी ) इसमें तेजी से निवेश कर रही हैं –

 E commerce start online business

लोगो को e commerce से होने वाले फायदे –
  1. जानकारियों का खजाना
  2. दौड़ भाग नहीं करना पड़ता एक ही जगह सभी सामान मिल जाता है
  3. मोल भाव भी कर सकते हैं जिस website से चाहे वहा से सामान देख और खरीद सकते हैं
  4. product की छानबीन
  5. After सेल्स सर्विस ,यानि सामान को नही पसंद आने पे वापस भी कर सकते हैं

online order मिलने से कंपनिया product की delivery को छोटे शहरों और गाँव में भी करने के लिए तैयार हैं जिसके लिए वो post office का भी सहारा ले रहीं हैं । (e कॉमर्स के प्रकार के बारे में और भी जाने )

ise bhi padhe —-

  1. web hosting business se paise kaise kamaye
  2. Internet पे search कैसे करें
  3. अपने पसंद की domain कैसे register करें

एक आदमी (शराबी  से ) :- शराबी  ट्रेन की पटरी पर सो गया,आदमी  बोला ट्रेन आयेगी तो मर जाएगा .

शराबी :- अरे मुर्ख , एयरोप्लेन  ऊपर से गया तो कुछ नहीं हुआ  ट्रेन क्या चीज है .”



दोस्तों  ये पोस्ट आपको पसंद आई तो  शेयर और कमेंट जरुर करे …………….

About The Author

Hello, I am Amit .i am hindi blogger.Myhelpblog.com website pe aap wordpress blog ,computer,online business,internet,inspirational story ki knowledge apko milegi.

4 Comments

  1. kitne logo ki jarurt padegi.

  2. olx.com jesi web banane ke liya kitna nivesh jaruru he,

  3. consumer to consumer kis prakar pisy kamya ja sakata hai adsans ya ad se kis prakar se pisy milte hai my mo. no 9923925253 sandip

    • C To C se paise kamane ke liye apko olx, quickr jaise portal ko banana hoga. Adsense se earn karne ke liye apko website ki jarurat padegi. kyu ki adsense ke ad ko website pe lagane ke baad jab uspe koi click karta hai to usse apko income hogi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

Close